What is Priceing Power

इसका मतलब होता है की कोई भी कंपनी कोई भी चीज़ या सर्विस जिसको वह बनाती है उसकी कीमत को वह किस प्रकार से कण्ट्रोल करती है, अगर प्रोडक्ट की किमत को बढ़ाना है तो या कम करना है तो उसमे उस कंपनी की क्या हिससेदारी है, कंपनी का अपने Product या Service के किमत के ऊपरके ऊपर कितना नियंत्रण है, इसको Priceing Power कहते है!

दुनिया में किसी भी चीज़ की किमत वह डिमांड और सप्लाई के आधार पर तय होती है जिस चीज़ की डिमांड अधिक है लेकिन वह चीज़ कम मात्रा में है तो लोग उसको अधिक किमत पर लेंगे लेकिन अगर वह चीज़ अधिक मात्रा में है तो उसकी किमत उतनी ही रहेगी, कोई भी कंपनी किस प्रकार से किसी चीज़ की किमत को अपने फायदे के किस प्रकार से बढ़ती या घटाती है उसको Priceing Power कहते है!

Why Priceing Power is Important

कोई कंपनी किसी क्षेत्र में सफल होगी या नहीं यह उसकी Priceing Power के ऊपर निर्भर करता है अगर कंपनी की Priceing Power अधिक है तो वह अपने प्रोडक्ट को अपने फायदे के अनुसार अधिक किमत पर बेच सकते है! इसके अलावा इससे कंपनी की Monopoly का भी पता चलता है, की उसका सेक्टर पर किस प्रकार से अधिकार है!

Leave a Comment